Wednesday, December 10, 2008

आखिरी इच्छा: मौत का प्रसारण टीवी पर हो...

ब्रिटेन में एक 59 वर्षीय रिटायर प्रोफ़ेसर ने इच्छा मृत्यु को अपनाया। साथ ही उनकी आखिरी इच्छा ये रही कि उनकी इस मौत का सीधा प्रसारण किया जाए। ये सीधा प्रसारण आज स्काई टीवी पर ब्रिटेन के दर्शक देख सकेंगे। ये ख़बर विस्तार से दैनिक भास्कर की वेब साइट पर पढ़ सकते हैं। मौत - जिसे आज पूरा ब्रिटेन टीवी पर देखेगा। ख़बर अपने आप में हिला देनेवाली है। किसी कि मौत को यूँ टीवी पर एक रियलीटी शो की तरह दिखाना एक बेहद ख़तरनाक शुरुआत मानी जा सकती है। मौत भी ऐसी नहीं जोकि एक हत्या हो या फिर कोई हादसा हो जो किस्मत से कैमरे ने रिकार्ड कर लिया हो। ये तो सोच समझकर मरना हुआ। और, आखिर मे ये ख्वाहिश की उसे पूरा देश देखे। प्रोफ़ेसर ग्रेग एवर्ट की इस इच्छा को समझाते हुए उनकी पत्नी मैरी ने कहा है कि - ग्रेग दुनिया को मौत का मतलब समझाना चाहते थे। लेकिन, क्या मौत के मतलब को इस तरह ही समझाया जा सकता है... किसी की इच्छा मृत्यु को इस तरह टीवी पर प्रसारित करने का ये पहला वाकया है। इसका असर क्या पढ़ेगा ये देखना बाकी है। लेकिन, कुछ बातें जो साफ है वो ख़तरनाक लगती है। पहली ये कि क्या इस तरह की घटना को यूँ टीवी पर दिखाकर इसे ग्लोरिफ़ाई किया जा रहा है... क्या टीवी जोकि पूरी तरह से व्यवसायिक है, किसी कि मौत को टीआरपी और विज्ञापनों के लिए भुना रहा है... क्या इस तरह से मौत को टीवी पर देखने से लोग ऐसा कुछ करने के लिए प्ररित तो नहीं हो जाएंगे... हालांकि किसी भी निष्कर्ष पर पहुंचा इस वक़्त जल्दी होगा लेकिन, आप इस ख़बर को एक बार ज़रूर पढ़े...

2 comments:

Mired Mirage said...

इच्छा मृत्यु तो नहीं परन्तु लोग आत्महत्याएँ नेट पर देखते रहे हैं ।
घुघूती बासूती

sandhyagupta said...

Lagbhag saari chizen to thi baazar me bikne ke liye, shayad mritu hi bachi thi wo bhi ab mauzud hai.